आखिर इस अपराध की दुनिया का उद्देश्य क्या है ?

हत्या , मार-काट , चोरी , डकैती , लूट-पाट जैसी घटनाएँ अपराध की दुनिया की समान घटना मानी जाती है । ऐसी घटनाओं के पीछे अपराधियों का अपना एक उद्देश्य और स्वार्थ भी होता है । मगर , तत्कालीन समय चक्र में चल रहे एक अद्भुत अपराध का क्या उद्देश्य है ? आखिर महिलाओं के बाल काटने के पीछे किसी का क्या स्वार्थ हो सकता है ?

गौरतलब है कि जुलाई के महीने में सर्वप्रथम राजस्थान से चूल काटने की घटना वायरल हुई थी । तब सभी ने इस घटना को बेबुनियादी करार देते हुए अफवाह की श्रेणी में डाल दिया था। आज यह अपराध राजस्थान से निकलकर हरियाणा , दिल्ली एवं कई राज्यों में फैलते हुए बिहार तक पहुँच गयी है । बिहार के कई ग्रामीण इलाकों में भी आय दिन ऐसी घटनाओं का अंजाम दिया जा रहा है । जिस इलाके में भी चूल काटी जा रही है उस इलाके में जबरदस्त दहशत का माहौल है । लोगों की रात की नींद उड़ जा रही है , सभी आंख खोलकर रात गुजार रहे हैं । पुलिस प्रशासन लेकिन अभी तक किसी को पकड़ने में नाकाम रही है।

अगर पीड़ितों की सुने तो किसी को फ्लैश के प्रकाश से बेहोश कर दिया जा रहा है , तो किसी पर चमकीले कपड़े पहनकर हमला किया जा रहा है , तो किसी को अपराधी बिल्ली के आकार में दिख रहा है , तो वहीं किसी की निद्रावस्था में बाल कट गये हैं । इन सब के अलावा और कई प्रकार से महिलाओं का बाल काट कर लोगों में खौफ़ उत्पन्न किया जा रहा है । आश्चर्य की बात तो ये है कि प्रत्येक पीड़ित का बयान हास्यास्पद और अविश्वसनीय लगता है । लेकिन , सैंकड़ों ऐसी घटना के बाद लोगों का ध्यान इस ओर खिंच गया है , और सभी इस विषय पर चिंतन करने के लिए मजबूर हो गए हैं । सभी सोचने लगे हैं , आखिर ऐसी घटनाओं को कौन अंजाम दे रहा है ?

विगत कई दिनों से हर रोज कोई न कोई इस माया का शिकार जरूर हो रहा है । आज सोशल मीडिया पर राजस्थान सरकार का एक संदेश आया जिसमें इसके पीछे एक कीड़े के होने की पुष्टि की जा रही है । उस सूचना के अनुसार यह कीड़ा गंदगी में पाया जाता है और ये बाल जैसे चीज़ों का सेवन करता है । लेकिन गौरतलब यह है की इस अफवाह के आड़ में कुछ लोग अपनी बदले की भावना का भी निर्वहन कर रहे हैं ।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s