Category Archives: Health

क्या अब दाढ़ी के दिन फिरे है ?

जंगली कहे जाते थे वो , जिनके दाढ़ी बड़े होते थे । या फिर साधू-संत , महात्मा , मौलवियो और ऋषि-मुनियों के ही चेहरे पर दाढ़ी देखा जाता था । समाज के एक मात्र छोटे से वर्ग की ही पहचान थी लम्बी दाढ़ी । अधिकांश मर्दो की मर्दानगी अमूमन उसकी मूछो की अकड़ पर ही दिखती थी Continue reading क्या अब दाढ़ी के दिन फिरे है ?

Advertisements

योग से बढ़ती है मनुष्य की योग्यता

मेल, मिलाप और मिलन जैसा गुण ही महज इंसान को महान बना देती है । ये प्रभावी गुण ‘योग’ के शाब्दिक अर्थ कहे जाते है । यानी योग को अपनाना खुद को विशिष्ट बनाना है । Continue reading योग से बढ़ती है मनुष्य की योग्यता